पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा में कोरोना की कितनी वैक्सीन आयी हैं? - New hindi english imp facts & best moral Quotes 2020

Breaking News

पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा में कोरोना की कितनी वैक्सीन आयी हैं?

 13-01-2020 के अनुसार कोरोना वैक्सीन "कोविशिल्ड" बुधवार को शेड्यूल्ड फ्लाइट के जरिए पुणे से रांची लाई गयी और उसके बाद में 9310 डोज यानि 931 वायल ) चाईबासा (chaibasa )लगभग शाम के 6.30 बजे पश्चिमी सिंहभूम जिला मुख्यालय स्थित सदर अस्पताल परिसर के आरसीएच वैक्सीन स्टोर पहुंची।
पश्चिमी सिंहभूम जिले में प्रथम चरण में लगभग 7500 हेल्थ वर्करों को कोरोनावायरस से बचाओ का टीका
प्रदान किया जाएगा।
 उन्हें फिर 28 दिन के बाद बाकी बचे को भी सील वैक्सिंग का दूसरा टीका भी लगाया जाएगा।
https://www.mekohindienglish.com/2021/01/how-many-vaccines-of-corona-have-come-chaibasa-chaibasa-covid-19.html


 कोविशिल्ड वैक्सीन लाने के लिए चाईबासा जिले से वैक्सीन वैन भेजा गया था जिसके द्वारा रांची के आर.सी.एच वैक्सीन सेंटर से कुल 931 कोविशिल्ड वैक्सीन चाईबासा लाई गई। इसे चाईबासा के सदर अस्पताल के आई सी एच वैक्सीन स्टोर में आइस लाइन रेफ्रिजरेटर में +2 से +8 डिग्री सेल्सियस के तापमान में स्टोर के रखा गया है। 16 जनवरी 2021 से कोरोना के रोकथाम के लिए टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है। जिसके दो केंद्र है जहां टीकाकरण अभियान सुचारू रूप से चालू है।
 कोरोना वैक्सीन का टीका कहां दिया जा रहा है।
1. चाईबासा सदर अस्पताल
2. चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल
  पश्चिमी सिंहभूम के इन दो जगहों (अस्पतालों ) पर कोरोना की वैक्सीन का टीका दिया जा रहा है।

 दिल्ली में आयोजित वैक्सीनेशन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उद्घाटन किए जाने के बाद पश्चिमी सिंभूम  में टीकाकरण अभियान की शुरुआत होगी

पश्चिमी सिंहभूम जिले के आरसीएच पदाधिकारी कौन हैं?
 Ans- डॉ. सुंदर मोहन ।
डॉक्टर सुंदर मोहन सामड ने विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कोरोना वैक्सीन जल्द ही पूरे पश्चिमी सिंहभूम में
 निर्धारित रूप से टीकाकरण के माध्यम से क्रमबद्ध तरीके से बांटी जाएगी।




 कोरोना वैक्सीन सप्ताह में कितने दिन दिया जाएगा?
सप्ताह में 4 दिन के लिए कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण का अभियान चलाया जाएगा 
राज्य स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के अनुसार या निर्धारित किया गया है कि झारखंड के 24 जिलों में कुल 48 स्थानों पर टीकाकरण अभियान की शुरुआत पहले चरण में होगी। एक ही कंपनी का टीका हेल्थ वर्कर्स को दो बार लगाया जाएगा।
 राज्य स्वास्थ्य विभाग यह निर्देश जारी किया है कि शुरुआत में "कोविशिल्ड" वैक्सीन का आधा डोज ही खर्च किया जाएगा। और यह निर्देश राज्य के सभी 24 जिलों को दिया गया है तथा ईमानदारी से इसे प्रयोग में लाने की बात कही गई है।

जानकारी के अनुसार कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत होने के बाद पहला दिन लगभग 100 हेल्थ वर्करों को टीका लगाया जाएगा फिर धीरे-धीरे जैसे चरण पड़ेगा उसके अनुसार टीकाकरण की प्रक्रिया में भी बढ़ोतरी होगी।


 वैक्सीनेशन सेंटर के लिए कितने ऑफिसर को कार्यभार दिया जाएगा ?
वैक्सीनेशन सेंटर के लिए 5 वैक्सीनेटर ऑफिसर को निगरानी के लिए तैनात किया जाएगा जिसके माध्यम से वैक्सीनेशन की प्रक्रिया में सावधानी,ईमानदारी और नियमावली के अनुसार प्रक्रिया चलाई जाएगी।

 वैक्सीनेटर ऑफिसर का मुख्य काम या होगा कि वे सामाजिक दूरी का पालन कराते हुए छह छह फीट की दूरी बनाए रखने की व्यवस्था करेंगे और कोरोनावायरस
 मुक्त कार्यों का क्रियान्वयन करेंगे वही यह भी ध्यान देंगे की वैक्सीनेटर सेंटर के बाहर एंबुलेंस,थर्मल स्कैनर,सेनीटाइजर
 की प्रबल व्यवस्था कायम है या नहीं । इसके अलावा वैक्सीनेटर ऑफिसर को यह भी देखना होगा की वैक्सीनेटर सेंटर का रजिस्ट्रेशन काउंटर, वैक्सीनेशन रूम, वेटिंग रूम आदि में विभाग से प्राप्त निर्देश के अनुसार सभी सामग्री व्यवस्था सुनिश्चित है या नहीं।



No comments

If you any doubts, please let me know.

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Pages